Thursday, July 6, 2017

पत्र

अगर तुम मुझे पत्र लिखो तो ....

प्रिय मुझे जब पत्र लिखो तो !
तुम कुछ.. ऐसा सा लिखना !!
 

पंक्ति पंक्ति में ....तुम रहना, !
औ पृष्ठ पृष्ठ.. मुझसा रखना !!


लिख देना कुछ .कागज़ पर !,
मैं उसमें तुमको...पढ़ लूँगा.!!
तुम अक्षर अक्षर.. रच जाना !
मैं चित्र चित्र सा ...गढ़ लूँगा !!
तुम अंत मैं अपना रख लेना !..
पर ऊपर नाम ...मेरा रखना !!
 

पंक्ति पंक्ति में .....तुम रहना,!
और पृष्ठ पृष्ठ, मुझ सा रखना !!


तुम छू लेना जरा सा होंठों से !.
सांसें मुझको, महका जाएँगी !!
भावों को तूलिका ...कर लेना !
यादें ...मुझको सहला जाएँगी !
नाम भले ही ....मत लिखना !
पर एहसास
​.....​
सदा रखना
​!!​
 
पंक्ति पंक्ति में .....तुम रहना,!
और पृष्ठ पृष्ठ, मुझ सा रखना !!


लिख देना.. वेदनाएं मन की !
सब अश्रु
स्वेद भी लिख देना !!
इतने वर्षों का
​.​
​.......​
राग द्वेष
​!​

औ मन विभेद भी लिख देना
​ ​
!!

बस इतनी ..प्रार्थना हैं तुमसे !
अच्छे दिन याद, जरा रखना !!​
पंक्ति पंक्ति में .....तुम रहना
​ ​
!
और पृष्ठ पृष्ठ
​,​
मुझ सा रखना !!